लकवा कैसे होता है Paralysis दवा इलाज लक्षण उपचार - Top.HowFN.com

लकवा कैसे होता है Paralysis दवा इलाज लक्षण उपचार

Paralysis meaning - किसी अंग की मांसपेशियो का पूर्ण रूप से कार्य ना कर पाना पैरालिसिस या लकवा मारना या पक्षाघात कहते हैं, इस रोग को पूर्ण रूप से सही किया जा सकता है बसर्ते मरीज अगर हिम्मत ना हारे तो paralysis attack कभी भी आ सकता हे जब उस अंग की संबेदना कमजोर होगी तो लकवा का सही समय पर इलाज ना होने से रोगी एक अपाहिज़ की जिंदगी जीने को मजबूर हो जाता है, इसलिए समय रहते लकवा का उपचार करना ज़रूरी है. Ayurvedic तरीक़ो से लकवा पूरी तरह से ठीक किया जा सकता है, बाबा रामदेव का नाम सुना होगा जो पहले लकवा के मरीज थे लेकिन इन उपायो को नियमित रूप से अपनाए. ये उपाय लंबे समय तक लगातार करने से ही फायदा देंगे, इसलिए patience रखे.

लकवा का कारण causes of paralysis
  • शरीर छमता से अधिक कार्य करना या बिल्कुल ना करना 
  • कोई पुराना कारण जो किसी विशेष अंग की मसल्स को कमजोर कर रहा हो जैसे - कोई पुरानी चोट, दिमागी न्यूरॉन्स ह्राष
  • अत्यधिक योन संबंध
  • बचपन से मांसपेशियो का कमजोर होना
  • दिमागी टेंशन या मस्तिष्क में रक्त का फटना, रुकना
पक्षाघात के लक्षण Lakwa disease symptoms
  • लकवा ग्रस्त रोग मे एक तरफ के सभी अंग काम करना बंद कर देते है जैसे बाए पैर या बाए हाथ का काम ना कर पाना. 
  • अथवा इन अंगो की दिमाग़ तक चेतना पहुँचना भी बंद हो जाती है.
  • लकवा रोग की वजह से अंगो का टेढ़ापन शरीर मे गर्मी की कमी और कुछ याद रखने की छमता भी ख़त्म हो जाती है
Lakwa Ka Ayurvedic Upchar Treatment of Paralysis cure
  1. योगा हर मर्ज की दवा है, इसलिए रोजाना प्राणायाम और कपलभारती करे.
  2. कुच्छ दीनो तक रोज रोगी को खजूर (डेट्स) को दूध मे भिगोकर देते रहने से लकवा ठीक होने लगता है.
  3. सोंठ (ड्राइ जिनजर) और उरद को पानी मे मिलकर हल्की आँच मे गरम करके रोगी नित्या पिलाने से लकवा ठीक हो जाता है.
  4. नाश्पति (पेयर), सेब (आपल) और अंगूर (ग्रेप्स) का रस बराबर मात्रा मे एक ग्लास मे मिला ले और रोगी को देते रहे. कुच्छ समय तक यह उपाय नित्या करे, फयडा ंिईलेगा.
  5. 1 चम्मच काली मिर्च (ब्लॅक पेपर) को पीसकर 3 चम्मच देशी गाय के गीयी मे मिलकर लेप बना ले और लकवा ग्रसित अंगो पर इसकी मालिश करे. ऐसा करने से लकवा ग्रस्त अंगो का रोग दूर हो जायगा.
  6. करेले की सब्जी या करेले का रस को नित्या खाने या पीने से लकवा से प्रभावित अंगो मे सुधार होने लगता है.
  7. प्याज (ऑनियन) खाते रहने से भी लकवा मे फयडा मिलता है.
  8. 6 काली लहसुन को पीसकर 1 चम्मच मक्खन मे मिला ले और रोज इसका सेवन करे. लकवा ठीक हो जायगा.
  9. तुलसी के पत्तो, दही (कर्ड) और सेंधा नमक को मिलकर उसका लेप करने से लकवा मे फयडा मिलता है. यह उपाय लंबे समय तक करना होगा.
  10. गरम पानी मे तुलसी के पत्तो को उबले और उसका भाप लकवा ग्रसित अंगो को देते रहने से लकवा ठीक होने लगता है.
  11. 1/2 ल्ट सरसो के तेल मे 50 गम लहसुन डालकर पका ले. अब इसे ठंडा करके तेल निचोड़ ले और एक डिब्बे मे रख ले. रोजाना इस तेल से लकवा वेल अंगो पर मालिश करे.
paralysis treatment paralysis in hindi paralysis symptoms causes of paralysis types of paralysis paralysis attack face paralysis

2 Responses check and comments

  1. Mere chin ke right side me khichav or bhari pan aa raha he.

    ReplyDelete
  2. Mera mother ke Right side ka pav kam nahi kar raha he vo ne he chal pati he or ghayde der tak bat nahi pati he soi rahe the he kul milaa kar kamer see par tek derd he

    ReplyDelete

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Iklan Bawah Artikel