नपुसंकता का उपचार लक्षण की दवा impotence treatment in hindi - Top.HowFN

नपुसंकता का उपचार लक्षण की दवा impotence treatment in hindi


इनफर्टिलिटी मतलब की नपुंसकता के लिए कई कारकों का योगदान हो सकता है।इंडिया मे देखा गया है की जब पति पत्नी बच्चा करने मे सामर्थ नही होते तो हमेशा महिलाओ को ही दोषी माना जाता है. जबकि वर्ल्ड हेल्त ऑर्गनाइज़ेशन (WHO) के अनुसार फीमेल इनफर्टिलिटी की तुलना मे पुरुष इनफर्टिलिटी के केस ज़्यादा सामने आए है तो चलिए जानते हैं पुरुषो के नपुंसक होने के कारण और लक्षण के बारे मे

Symptoms of Male Infertility पुरुष के नपुंसक होने का लक्षण 

• इंटरकोर्स मे प्राब्लम
• इजेक्शन सही नही होना
• जल्दी डिसचार्ज होना
• स्पर्म काउंट मे कमी
• नाइट फॉल

Causes of Male Infertility पुरुषो के इंपोटेंट होने के कारण

हम आपको बताते है, हम थेरप्यूटिक रीज़न की बात नही करेंगे, बल्कि सामाजिक और लाइफ स्टाइल से जुड़े कुछ ख़ास तथ्यों के बारे मे बताते है.

स्टेराइड्स का सेवन करने से

• अगर आप जिम जॉइन करके बॉडी बना रहे है. साथ ही मसल बनाना के लिए स्टेराइड्स का सेवन कर रहे तो आज से ही इसका सेवन बंद कर दे क्योकि ये आपको impotent (नपुंसक) बना सकती है.

• इसके सेवन से आपके स्पर्म का बनाना कम हो जाता है.

ड्रग्स, शराब और स्मोकिंग

• यदि आप ड्रग्स, ड्रिंकिंग या स्मोकिंग या कोई आन्ये नशा करते है तो आपको स्पर्म काउंट कम हो जाते है आपके स्पर्म की कमी होने की वजह से आप पिता नही बन सकते है.

• ज़रूरत से जयदा शराब पीने से लिवर संबंधित बीमारिया हो जाती है. उससे भी आपके स्पर्म काउंट मे कमी आ जाती है.

लिंग मे अधिक गर्मी पहुचना

• ऐसा कोई भी काम जिससे लिंग तक अधिक गर्मी पहुचती है, जिससे की स्पर्म काउंट्स कम हो जाते है और आदमी नपुंसक का शिकार हो जाता है.

• अक्सर फॅक्टरी मे भट्टी के पास काम करने वाले पुरुषो मे यह शिकायत अधिक देखी गयी है.

निरंतर लॅपटॉप पर काम करने से

• कुछ लोग निरंतर लोपटॉप को अपनी जंगो पर रख कर काम करते है. वे लोग भी नपुंसकता से ग्रसित हो जाते है.

• क्योकि लॅपटॉप से निकले वाली गर्मी आपके यौन अंगो को प्रभावित करती है.

ज़रूरत से ज़्यादा हस्तमैथुन

• जो लोग ज़रूरत से ज़्यादा हस्तमैथुन करते है. उनके अंदर भी स्पर्म काउंट की कमी हो जाती है.

• ऐसा होने से उन्हे पिता ना बनाना की प्राब्लम हो जाती है.

लंबी दूरी तक साइकलिंग करने से

• हर रोज लंबी दूरी तक साइकलिंग करने से भी लिंग के आस-पास का हिसा गरम हो जाता है

• इस कारण से एरेक्टीले डिसफंकशन मतलब लिंग मे कड़कपन नही आता है और आप नपुंसकता से घिर जाते है.

यौन संक्रमित बीमारी

• हम आपको बताना चाहेंगे की सिर्फ़ एड्स ही STDs बीमारी नही होती है बल्कि इसके अलावा भी बहुत सी बीमारिया होती है, जो की कॉज़स ऑफ माले इनफर्टिलिटी का सबसे बड़ा पार्ट होता है.

• असुरक्षित यौन समंध बनाने से आपको इनफर्टिलिटी की प्राब्लम बहुत जल्दी होती है.

• कुछ अन्या बीमारिया जेसे मंप्स, टीबी, ब्रूसलोसिस, गोनॉर्रहेअ, टाइफाइड, इनफ़्लुएंज़ा, आंड स्मालपॉक्स होने पर भी स्पर्म काउंट कम हो जाते है.

बिना संभोग के एजॅक्यूलेट होना

• यदि आपको ज़रूरत से ज़्यादा नाइट फॉल होता है या अपनी पार्ट्नर के पास जाते ही एजॅक्यूलेट हो जाता है. तो आपको तुरंत डॉक्टर की सलाह लेना चाहिए. क्योकि यह भी इंपोटएन्स का कारण है.

• यदि आप संभोग करना चाहते है और आपके लिंग मे कदकपन नही आ रहा है, और पहले ही एजॅक्यूलेट हो जाता है. या सेक्स के दौरान तेज दर्द होता है तो तुरंत डॉक्टर से मिले.

रसायन के पास रहने से

• बड़ी- बड़ी फॅक्टरी मे निकालने वाले रसायन तत्वो जेसे बिन्ज़ीन, टॉलुइं, आइयैल्न, पेस्टिसाइड, अर्बिसाइड्स, ऑर्गॅनिक सॉलवेंट्स, पैंटिंग मेटीरियल आदि भी कॉज़स ऑफ माले इनफर्टिलिटी है.

• इसलिए फॅक्टरी मे काम करने वाले लोगो को पहले से ही सावधान रहना चाहिए.
Powered by Blogger.