एंटी एजिंग खूबसूरत चेहरा पाने के लिये पपीता के ये गुण - Top.HowFN

एंटी एजिंग खूबसूरत चेहरा पाने के लिये पपीता के ये गुण


पपीता खाने में जितना टेस्टी होता है, उतना ही हेल्दी भी। साथ ही इसमें ऐसे तत्व मौजूद होते हैं जो कई सारी बीमारियों में इलाज के तौर पर भी इस्तेमाल किए जाते हैं। कच्चे पपीते में विटामिन ए और सी भरपूर मात्रा में होते हैं। यह गर्मियों में शरीर को ठंडक पहुंचाने के लिए खाया जाता है।




पपीते का जूस, इसका गूदा, इसके बीज सबकुछ बहुत ही लाभदायक होते हैं। आजकल फ्रूट चाट के तौर पर भी पपीते का इस्तेमाल किया जा रहा है। पपीता पाचन संबंधी दिक्कतों को दूर करने के साथ ही पीलिया, हार्निया, फर्टिलिटी बढ़ाने, हार्ट और कोलेस्ट्रॉल के रोगियों के लिए भी बहुत ही फायदेमंद होता है। आज पपीते के इन्हीं गुणों के बारे में जानेंगे।

पपीते में गुण


1-इसमें विटामिन और पपाइन पाया जाता है, जो त्वचा की रंगत निखारने के साथ ही उसका ग्लो भी बढ़ता है।

2-इसमें पाए जाने वाले मिनरल्स, विटामिन और एंजाइम्स बाल के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं।

3-पपीते के बीज में लिवर को ठीक करने के गुण होते हैं। इसे शहद या काली मिर्च के साथ पीसकर खाया जा सकता है।

4-इसे हाइपरटेंशन की दवा के तौर पर भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इसमें पाए जाने वाला पोटैशियम ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है।

पपीते में विटामिन की मात्रा

कैल्शियम-5%

मैग्नीशियम-5%

डाइटरी फाइबर-6%

पोटैशियम -5%

विटामिन ए-19%

कार्बोहाइड्रेट-5%

Other Benefits: ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के लिए, दिल के मरीजों के लिए, खूबसूरत चेहरे और झुर्रियों लिए, एंटी एजिंग के लिए, कब्ज और बवासीर के लिए, मासिक धर्म नियमित रहता है, कमजोरी दूर करने के लिए, पीलिया होने पर।

1. ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के लिए

पपीता हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों के लिए बेहद फायदेमंद होता है, क्योंकि इसमें कारपेन या कार्पेइनज् नामक एक अम्लीय तत्व मौजूद होता है जो ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है। ब्लड प्रेशर की शिकायत होने पर रोजाना एक पपीता (कच्चा) का सेवन कारगर होता है।

2. दिल के मरीजों के लिए

दिल के रोगियों के लिए भी पपीता बहुत ही फायदेमंद होता है। पपीते के पत्तों का काढ़ा बनाकर रोजाना एक कप पीने से तुरंत इसके प्रभाव दिखने लगते हैं।

3. खूबसूरत चेहरे और झुर्रियों के लिए

खूबसूरती बढ़ाने के के लिए भी पपीते का इस्तेमाल किया जाता है। पपीते को चेहरे पर रगड़ने से त्वचा से संबंधित कई प्रकार की समस्याएं दूर होती हैं। हफ्ते में दो से तीन बार चेहरे पर इसके इस्तेमाल से त्वचा दमकने लगती है। आजकल बाजार में उपलब्ध कई सारे ब्यूटी प्रोडक्ट्स में भी पपीते का भरपूर इस्तेमाल किया जा रहा है।

4. एंटी-एजिंग के लिए

समय से पहले चेहरे पर झुर्रियां आना बुढ़ापे की निशानी है। महिलाओं में इस चीज की सबसे ज्यादा समस्या देखी जाती है। इसे दूर करने के लिए पके हुए पपीते के गूदे को उबटन की तरह चेहरे पर लगाएं और लगभग आधा घंटा लगा रहने दें। सूखने पर गुनगुने पानी से चेहरा धो लें। एक महीने तक लगातार ऐसा करके त्वचा को लंबे समय तक जवां रखा जा सकता है।

5. कब्ज और बवासीर के लिए

कब्ज व बावासीर जैसी समस्याएं भी पपीता खाकर दूर की जा सकती हैं। इसके लिए रोजाना एक पका पपीता खाना चाहिए। बवासीर के मस्सों पर कच्चे पपीते के दूध को लगाना काफी फायदा पहुंचाएगा।

6. मासिक धर्म नियमित रहता है

पीरियड्स में जिन महिलाओं को ज्यादा परेशानी होती है या जिनका मासिक धर्म अनियमित होता है, उन्हें 250 ग्राम पके हुए पपीते का सेवन एक महीने तक रोजाना करना चाहिए। इससे मासिक धर्म से संबंधित लगभग सभी परेशानियां दूर हो जाती हैं।
Powered by Blogger.