ब्लू फिल्म्स डेफिनिशन ऑनलाइन इंडियन वीडियो | a blue film meaning definition wikipedia new indian mms video

Blue movie live stream free ब्लू फिल्म अपने जिंदगी में हर किसी ने कहीं न कहीं कभी ना कभी तो जरूर देखी होती है लेकिन क्या आपने सोचा है कि आखिर पॉर्न फिल्मों को ब्लू फिल्म क्यों कहा जाता है

ऐसा ही एक सवाल और है कि जहां गंदा कारोबार होता है उस इलाके को रेड लाइट एरिया क्यों कहते हैं सोच में पड़ गए ना आज हम आपको इन दोनों सवालों के जवाब ढूंढकर लाए हैं ब्लू फिल्म्स डेफिनिशन ऑनलाइन इन ब्लू
२०२१ चाइना ब्लू इंग्लिश फिल्म ब्लू फ्लेम मूवी ब्लू chiggy wiggy कैटरीना कैफ़ ब्लू fiqrana

पॉर्न फिल्मों का नाम ब्लू फिल्म कैसे पड़ा ? 


 दरअसल साल 1920 में पॉर्न फ़िल्में बेहद लो बजट हुआ करती थीं ब्लैक एंड वाइट फ़िल्मों में जिन रील का इस्तेमाल होता था, वो महंगी होती थी और ज़्यादा लम्बे समय तक इस्तेमाल नहीं की जा सकती थीं

उनमें नीले रंग के कुछ शेड आ जाते थे पॉर्न फ़िल्म बनाने वाले इन रीलों को खरीदते थे और फ़िल्म शूट करते थे इस रील पर बनने वाली फिल्म पर हल्के नीले निशान नज़र आते थे और ज्यादा पुरानी फिल्मों तो हल्की नीली दिखाई पड़ती थी यहीं से इन फिल्मों का नाम ब्लू फिल्म पड़ा

ब्लू फिल्म्स डेफिनिशन ऑनलाइन


 हालांकि इसके पीछे एक कारण ये भी है कि साल 1969 में बनी पहली अडल्ट फ़िल्म ‘Blue Movie’ में काफ़ी अश्लील सीन थे, जो टेकनिकल खराबी की वजह से नीले रंग के दिखाई पड़ रहे थे

ये फ़िल्म अमेरिका के कई सिनेमाघरों में चली और काफी पॉपुलर हुई तभी से ऐसी फ़िल्मों का नाम ब्लू Film पड़ गया...

उन इलाकों को रेड लाइट एरिया क्यों कहते हैं ? 


 साल 1894 में अमेरिका के Amsterdam में Red Light District नाम का इलाका था... इस इलाके का नाम रेड लाइट पड़ने की वजह ये थी कि.यहां खासतौर से वैशयाएं घर में लाल रंग की लाइटें लगाती थीं, ताकि वो इलाके के बाकी घरों या दुकानों से अलग दिख सकें

वैसे लाल रंग प्यार और कामुकता का प्रतीक होता था और दूर से देखने में सबसे ज़्यादा चमकता था... उस समय जब इंटरनेट नहीं होता था,

यही तरीका था लोगों को इशारा करने का... कई लोगों ये भी मानते है कि वैशया घर में कई वैशयायें Sexual Transmitted Diseases (STD) से ग्रसित होती थीं, जिस वजह से उनके शरीर में लाल दाग, प्राइवेट अंगों में सूजन होती थी.

Blue films Movies name videos indian mistry Facts


ये देख कर ग्राहकों की इच्छा खत्म हो जाती ​थी, इसलिए वहां लाल लाइटें लगा दी गई थीं. इससे शरीर पर दाग और सूजन छिप जाती थी और लाल रंग में इच्छा और बढ़ जाती थी… लाल बत्ती के पीछे वजह जो भी हो लेकिन यहीं से इन इलाकों को रेड लाइट एरिया कहा जाने लगा...
जानकारी मदगार हो तो शेयर करे हमें अधिक जाने ClickMe
Please SHARE Whatsapp

1 Response to

  1. Hi great blog! Everything is very open with a clear description of the issues. It was definitely informative. Your website is very useful. Thank you for sharing!

    ReplyDelete

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Widgets