वैसे तो आजकल हमारे समाज में लड़के और लड़कियों को लेकर काफी हद तक हमारी सोच बदली हे. फिर भी कुछ बाते ऐसी हे जिसमे लड़के और लड़की को लेकर भेदभाव होता हे. सब यही मानते हे की लड़के हिम्मतवाले होते हे और लडकियां इमोशनल. इन्ही कुछ कारणों की वजह से लडकियाँ भी सोचती हे काश वे भी लड़के होते.
  Girls Think Kash Me Bhi Ladka Hota

1. जब जाने की इजाजत ना मिले तो
लड़के की तरह लडकी को भी अपने दोस्तों के साथ घूमना पसंद होता हे. लेकिन कई बार घर से इजाजत ना मिलने पर हमेशा लड़की के मन में यही ख्याल आता हे की काश में भी लड़का होता और कहीं भी बिना इजाजत के जा सकती.

2. घर जल्दी आ जाना
घर से निकलने से पहले ही लड़की को हिदायत दे दी जाती हे की घर जल्दी आ जाना. तब लडकियां यही सोचती हे की लडको के साथ ऐसा क्यों नहीं होता और एक बार फिर उनके मन में यही ख्याल आता हे की काश में भी लड़का होता.

3. अपनी बात ना रख पाना
कई बार लड़कियों को सबके सामने अपनी बात रखने का मौका नहीं दिया जाता हे. ऊँची आवाज में बात करते ही उन्हें चुप करा दिया जाता हे. ऐसे टाइम में लडकियां हमेशा यही सोचती हे की काश में भी लड़का होता और भगवान से दुआ करती हे की मुझे भी लड़का बना दे.

यह भी पढ़े इन 7 कारन से लडकियां डरती हे शादी करने से

4. घर की इज्जत
लडकियों को कोई काम करने से पहले या किसी चीज का फैसला लेने से पहले ही यह फरमान दे दिया जाता हे की तुम घर की इज्जत हो, इसलिए सोच-समझकर फैसला लेना या कदम उठाना. ऐसे में भी उनके दिमाग में यही सोच आती हे की काश में भी लड़का होता.

5. पीरियड के दौरान
पीरियड ऐसा टाइम हे जब लड़की को सबसे ज्यादा दर्द होता हे और वो चिढचिढ़ी हो जाती हे ऐसे में गुस्से के कारण उसके दिमाग में यह ख्याल आता हे की काश में भी लड़का होता.

आज भी समाज में बहुत सी बातों को लेकर लड़के और लड़कियों में भेदभाव चला आ रहा हे. हमेशा से लड़के को अव्वल दर्जा ही मिलता हे. हमें ही आगे बढ़कर इस सोच को बदलना पड़ेगा.

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..