यह टाइटल पड़ के थोडा अजीब लगा होगा, की मोदीजी की बात से कैसे शादी टूट सकती हे. आपने आज तक शादी टूटने के कई कारण सुने होंगे. लेकिन पीएम की वजह से शादी टूट जाए ऐसा पहली बार सुना होगा. लेकिन यह सच हे. एक लड़का और लड़की जो शादी के बंधन में बंधने जा रहे थे, उनमे ऐसी क्या बहस हुयी की उन्होंने शादी ही तोड़ ली?? कहते हे जोड़िया उपरवाला बनाता हे लेकिन तोड़ने के लिए हम खुद जिम्मेदार होते हे. ऐसा ही एक वाक्या सामने आया हे.

दरअसल टाइम्स ऑफ़ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार लड़का एक बिजनेसमेन हे और लड़की एक सरकारी विभाग में नोकरी करती हे. दोनों के परिजनों ने रिश्ता तय करने की सोची. परिवार वाले लड़के और लड़की को शादी तय करने के लिए कानपुर के एक मंदिर में ले गए. दोनों परिवार मंदिर में मिले और शादी की व्यवस्था और खर्च के बारे में बात करने लगे.

अब तक तो सब कुछ ठीक चल रहा था, पर कहते हे ना समस्या आने में देर नहीं लगती. अचानक दोनों मोदी जी और देश की अर्थव्यवस्था को लेकर बातें करने लगे. अब शादी में कैसी राजनीति की बाते यार कुछ प्यार भरी बाते करो लेकिन यंहा तो राजनीती हो ही गयी.

लड़की देश की खराब अर्थव्यवस्था के लिए मोदीजी को जिम्मेदार ठहरा रही थी और दूसरी और लड़का मोदीजी का जबरा फेन यानी पक्का समर्थक निकला. लड़के को मोदीजी की बुराई बर्दाश्त नहीं हुयी और दोनों के बीच बहस हो गयी और बहस भी छोटी नहीं, ऐसी बहस की दोनों ने शादी तोड़ने का फेसला कर लिया. दोनों ने अपने परिवार वालो को भी कह दिया की अब किसी भी हालत में शादी नहीं होगी.
वेसे ठीक हे अगर सोचो शादी हो जाती और बाद में अर्थव्यवस्था पे चर्चा होती, तो शायद घर का बजट ही बिगड़ जाता. लडे कोई और भरे हमारे पीएम मोदी जी. यह बात तो गलत हे. यह एक बात नहीं अक्सर ऐसे छोटे-छोटे कारणों की वजह से काफी शादियाँ टूट जाती हे.

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..