कॉलेज की दुनिया में हमारे पास इतना पैसा नहीं था फिर भी हम ख़ुशी से रहते थे, मानो सारी दुनिया हमारी मुट्ठी में हे. इसके बाद जैसे ही हम नोकरी में आये, पैसा तो बहुत आ गया लेकिन साथ ही साथ बहुत सारी टेंसन भी. हम काम के बोझ में इस कदर डूब जाते हे की धीरे धीरे जीवन निराश लगने लगता हे. ऐसा क्या बदलाव इन वर्षों में आ गया की?? यह बदलाव आया हे आपका खुद को बड़ा समझने का. अगर उन छोटी-छोटी चीजो का आनंद लेना आप बंद नहीं करते, जिन्हें पहले लिया करते थे और परिवार, दोस्तों के साथ समय निकाल पाते तो आपको जिंदगी कभी भी बोझिल नहीं लगती. आज की इस पोस्ट में हम 3 सवालों के बारे में जानेंगे जिस से आप अपने जीने के तरीके को पहचान सकते हे.
1. ऑफिस से आकर आप रात का खाना कहाँ और किसके साथ खाते हे??अब खुद से इस सवाल का जवाब पूछिए दोस्तों के साथ, परिवार के साथ, अकेले में या ऑफिस से खाकर आते हे. अगर आपका जवाब हे अकेले में या ऑफिस से खाकर आते हे तो आप जिंदगी में निराश हे क्योकि सब कुछ होते हुए भी आप अकेले रहना चाहते हे. इसलिए परिवार और दोस्तों के साथ रहे, उनसे मिले, उनके साथ खाना खाएं. मानो ऐसा लगेगा की कॉलेज के दिन वापिस आ गए हे.

2. अपने पुराने दोस्तों से अब आपका सम्पर्क कंहा पर होता हे??
आप अपने पुराने दोस्तों से अब फेसबुक पे, वक्त निकाल के मिलते हे, फोन पर बात होती हे या यु ही कभी टकरा जाते हे. अगर आपका जवाब हे वक्त निकल के मिलते हे तो सबसे बेस्ट हे. कहते हे न की old is gold. अपने पुराने दोस्तों से मिले, उनके साथ घुमे, उनके साथ मोज-मस्ती करे ताकि उन्हें भी लगेगा की यह हमें आज भी नहीं भुला हे और आपको अपना बचपन याद आ जायेगा, जंहा किसी तरह की टेंसन नहीं थी, ना ही काम की और ना ही पैसे की.

3. आपके जीवन की प्राथमिकता क्या हे??सिर्फ करीयर, करियर के साथ सम्बध भी, सिर्फ और सिर्फ परिवार या सिर्फ और सिर्फ दोस्त. अगर आपका जवाब हे करियर के साथ संबध भी. तो आप सही दिशा में जा रहे हे क्योकि एक दिन पैसा बहुत हो जाता हे लेकिन रिलेशन नहीं रहते. इसलिए करियर के साथ उन्हें भी टाइम दे जो आपके लिए बहुत खास हे जैसे परिवार, दोस्त आदि.

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..