how to use condoms for female how to use condoms with images kandam meaning in hindi meaning of female condom meaning of condom in english manforce tablets details in hindi how to use manforce 50 tablet in hindi how to use man force medicine man force use video manforce tablet side effects in hindi
Condom knowledge in hindi यह तो मानना पड़ेगा की कॉंडम साइन्स का अद्भुत गिफ्ट है. यह ना सिर्फ़ अनचाहे गर्भ (अनवॉंटेड प्रेग्नेन्सी) से बचाता है, बल्कि स्ट्ड’स जैसे हिब/एड्स के ख़तरे से भी बचाने मे बहुत हेल्प करता है. सेफ सेक्स का आनंद उठाने के लिए कॉंडम का इस्तेमाल करना ज़रूरी होता है.
loading...


सेफ सेक्स को करने के लिए कॉंडम को सही तरीके से इस्तेमाल करने के बारे मे भी जानना ज़रूरी होता है, नही तो कॉंडम इस्तेमाल करने के बावजूद भी ख़तरे की पॉसिबिलिटी रह जाती है how to use condom
  1. पॅकेट को सही तरह से खोलने का तरीका : ज़्यादातर लोग दंटो से पॅकेट को फाड़ने की कोशिश करते है, जिसमे कॉंडम के फटने की पॉसिबिलिटी होती है. इसलिए किसी सिसर से पॅकेट को कटे और कॉंडम को बाहर निकले. इसको उसे करने से पहले चेक कर ले की कही वो फट तो नही गया.
  2. नॉर्मली लोग यह ग़लती कर बैठते है की उत्तेजित होने के पहले ही कॉंडम को खोल लेते है. जिसके कारण जब वे उत्तेजित होने के बाद उसको पहनते है तब नॉर्मली कॉंडम फट जाता है.
  3. कभी-कभी लोग जल्दी मे कॉंडम ग़लत तरह से पहन लेते है और फिर खोलकर सही तरीके से पहनने के दौरान उसमे स्पर्म लग जाने की पॉसिबिलिटी बन जाती है, जिसके कारण प्रेग्नेन्सी का ख़तरा बाद जाता है.
  4. ग़लत लूब्रिकॅंट का इस्तेमाल : कॉंडम के साथ सही तरह के लूब्रिकॅंट का इस्तेमाल करना ज़रूरी होता है, नही तो कॉंडम के फटने का दर होता है. फॉर एग्ज़ॅंपल पेट्रोलियम जेल्ली, लोशन, क्रीम का इस्तेमाल करने से लेटेक्स कॉंडम को नुकसान पहुँचता है. इसके लिए ग्लिसरिन का इस्तेमाल करना ठीक होता है.
  5. एर भरने की ग़लती ना करे : कोई-कोई यह ग़लती कर बैठते है की कॉंडम को पहनते वक्त उसमे एर भरने लगते है. एर भरने से कॉंडम ठीक से स्किन से चिपक नही पता और उसके फटने का भी दर रहता है.
  6. पहनने के बाद जगह ना छोड़े : सीमेन की नोक पर जगह नही छोड़नी चाहिए इससे फटने का दर बना रहता है.
  7. काम हो जाने के बाद पहने रहने की ग़लती : सेक्स के दौरान उत्तेजित के शमन के बाद भी कुछ लोग पहने रहने की ग़लती करते है जिससे स्पर्म के निकल कर बाहर आने का दर बना रहता है. इसलिए इस्तेमाल करने के तुरंत बाद इसको खोलकर फेंक देना चाहिए.
  8. सही साइज़ का चुनाव : कॉंडम खरीदते वक्त सही साइज़ का चुनाव ज़रूर करे. साइज़ सही नही होने पर यह तिला पद जाता है या टाइट होने पर फट जाता है. जिसके कारण सेक्स के दौरान पूरा आनंद भी नही मिल पता और प्रेग्नेन्सी और स्ट्ड का ख़तरा भी बना रहता है.
कॉंडम साइन्स की दें ज़रूर है मगर इसको बनाया तो इंसान ने ही है, इसलिए कभी-कभी इसको बनाने मे कुछ ग़लतिया हो सकती है. इसलिए कॉंडम इस्तेमाल करने से पहले निम्न बतो का ध्यान रखे –
  1. हमेशा अच्छे ब्रांड का कॉंडम ही खरीदे.
  2. खरीदते वक्त एक्सपाइरी डटे जारू देखे.
  3. ज़्यादातर लोग पॉकेट मे कॉंडम लेकर घूमते है. लेकिन सुन लाइट के कॉंटॅक्ट मे आने पर कॉंडम का लेटेक्स और टेक्सचर दोनो नष्ट होने लगती है

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..